जनकृति अंतरराष्ट्रीय पत्रिका के 'संपादक एवं संपादकीय विशेषांक' हेतु सूचना - विश्वहिंदीजन

अभी अभी

हिंदी भाषा सामग्री का ई संग्रहालय

सामग्री की रिकॉर्डिंग सुनने हेतु नीचे यूट्यूब बटन पर क्लिक करें-

समर्थक

रविवार, 4 जून 2017

जनकृति अंतरराष्ट्रीय पत्रिका के 'संपादक एवं संपादकीय विशेषांक' हेतु सूचना



#संपादक_संपादकीय_विशेषांक 2017

आप सभी को सूचित किया जाता है कि जनकृति अंतरराष्ट्रीय पत्रिका का आगामी विशेषांक पत्रिकाओं के संपादकों, संपादकीय एवं पत्रिकाओं की समीक्षा पर केंद्रित होगा। इस अंक हेतु निम्न विषय आमंत्रित है-
1. संपादकों के व्यक्तित्व उनकी वैचारिकी पर लेख
2. पत्रिकाओं के संपादकीय, अंक विशेष के संपादकीय पर समीक्षात्मक लेख
3. संपादकों के साक्षात्कार
4. भारत एवं भारत से बाहर की पत्रिकाओं के अंकों एवं अंक विशेष पर समीक्षात्मक लेख
5. संपादकों को लेकर लेखकों के संस्मरण
इत्यादि विषय से सम्बंधित लेख, शोध आलेख, साक्षात्कार, आप 15 जुलाई से पूर्व jankritipatrika@gmail.com पर भेजें। भाषा- हिंदी, अंग्रेजी, फॉन्ट-यूनिकोड, times new roman, अधिकतम शब्द सीमा- 3000

पत्रिका- http://www.jankritipatrika.in/
एक टिप्पणी भेजें